करनाल मामले में जेजेपी की छात्र विंग इनसो ने किया पूरे प्रदेश में विरोध-प्रदर्शन 

Chandigarh

सत्यख़बर चंडीगढ़

करनाल आईटीआई लाठीचार्ज मामला
करनाल के आईटीआई चौक पर हुए लाठीचार्ज मामले ने पकडा तूल 
जेजेपी की छात्र विंग इनसो ने सोमवार को किया पूरे प्रदेश में विरोध-प्रदर्शन 
 करनाल में रोडवेज बस के नीचे आने से आईटीआई छात्र की मौत और उसके बाद छात्रों और पुलिस में हिंसक झडप का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। घटना के विरोध में जेजेपी की छात्र इकाई इनसो ने सोमवार को पूरे प्रदेश में जगी-जगह सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। इनसो ने प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलकर और मुख्यमंत्री मनोहर लाल का पुतला फूका। इनसो एवं जजपा युवा कार्यकर्ताओ ने पंचकूला के सेक्टर 1 के सरकारी कॉलेज में भी धरना-प्रदर्शन किया। बीते गुरुवार को करनाल में रोडवेज बस के नीचे आने से आईटीआई कॉलेज के एक छात्र की मौत हो गई थी। जिसके बाद शुक्रवार को कॉलेज के छात्रों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की और रोडवेज बस ड्राइवर पर कार्रवाई ना करने का आरोप लगाया। इस दौरान छात्रों और पुलिस प्रशासन के बीच हिंसक झड़प हो गई थी। जिसमें पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए छात्रों पर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस गोले भी छोड़े. साथ ही कुछ छात्रों को गिरफ्तार भी कर लिया था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल व डीजीपी पुलिस ने मामले में इस मामलें में जांच के आदेश दिए थे। वही मामले में सियासत भी जोरों पर शुरू हो गई है। इससे पहले रविवार को पानीपत में आम आदमी पार्टी ने भी प्रेस वार्ता कर प्रदेश की बीजेपी सरकार पर सवाल खड़े किए थे। साथ ही आप के प्रदेश के संगठन मंत्री ने तो मुख्यमंत्री की तुलना जनरल डायर और औरंगजेब से कर दी थी। पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा, अशोक तवर व रणदीप सुरजेवाला ने भी घटना के बाद दुख जताया था और सरकार से गिरफ्तार छात्रों को तुरंत छोड़ने और शांति बहाली की भी मांग की थी।