देश में अब टच स्क्रीन से मिलेगी वोट से सम्बन्धित तमाम जानकारी: रंजन

Chandigarh
सत्य खबर चंडीगढ़ ब्यूरो
हरियाणा के मुख्य चुनाव अधिकारी  राजीव रंजन ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में टच स्क्रीन से मतदाताओं को वोट से सम्बन्धित तमाम जानकारी सहजता से उपलब्ध हो पाएगी। इसके लिए प्रदेश भर में टच स्क्रीन स्थापित की जाएंगी। इसकी पहल कुरुक्षेत्र जिले से कर दी गई है। इस जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों में 17 टच स्क्रीने स्थापित की जाएंगी।
यह जानकारी  राजीव रंजन रविवार को लघु सचिवालय, कुरुक्षेत्र में जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा स्थापित प्रदेश की पहली वोट सम्बन्धी टच स्क्रीन का उदघाटन करने के बाद दे रहे थे। 
इससे पहले हरियाणा के मुख्य चुनाव अधिकारी राजीव रंजन, जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त डॉ० एस.एस. फुलिया ने विधिवत रुप से रिब्बन काटकर प्रदेश की पहली वोट सम्बन्धी टच स्क्रीन का शुभारम्भ किया। इसके उपरांत सीईओ राजीव रंजन ने टच स्क्रीन पर एक कर्मचारी और नागरिक का नाम डालकर टच स्क्रीन मशीन का निरीक्षण किया और टच स्क्रीन पर मतदाता मोबाईल नम्बर डालकर मतदाता के फोन पर आए एसएमएस को भी चैक किया। इसके साथ ही सीईओ राजीव रंजन ने टोल फ्री नम्बर 1950 को डायल करके वोट सम्बन्धी जानकारी भी हासिल कर इस टोल फ्री नम्बर को चैक किया। यहां पर जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त डॉ० एस.एस. फुलिया ने सीईओ राजीव रंजन को कुरुक्षेत्र जिले की स्वीप गतिविधियों के साथ-साथ लोकसभा आम चुनाव के तैयारियों की सम्बन्ध में विस्तृत रिपोर्ट भी दी।
Haryana Chief Electoral Officer, Mr Rajeev Ranjan inaugurating the first vote related touch screen installed in Kurukshetra on March 17, 2019. District Election Officer and Deputy Commissioner, Kurukshetra, Dr S. S. Phulia is also seen in the picture.
 राजीव रंजन ने कहा कि कुरुक्षेत्र से वोट सम्बन्धी जानकारी मात्र टच करने पर मिलने की प्रक्रिया को शुरु किया गया है। इसके लिए कुरुक्षेत्र के चारों विधानसभा क्षेत्रों के तहसीलों, बीडीपीओ कार्यालयों, डीडीपीओ कार्यालय, बस स्टैंड और सरल केन्द्रों पर टच स्क्रीनें स्थापित की जाएंगी। इसके बाद पूरे प्रदेश में टच स्क्रीनें लगाई जाएंगी। इस स्क्रीन के माध्यम से कोई भी मतदाता अपने नाम की हिन्दी और अंग्रेजी में स्पेलिंग डालकर अपने वोट, बूथ नम्बर, बूथ की जगह, एपिक नम्बर, असेम्बली नम्बर, विधानसभा क्षेत्र सहित परिवार के सभी सदस्यों की वोट सम्बन्धी जानकारी स्क्रीन पर प्राप्त कर सकेगा। इतना ही नहीं टच स्क्रीन पर मतदाता अपने मोबाईल पर एसएमएस के जरिए भी अपनी वोट का डाटा ले सकता है। इसके लिए मतदाता को टच स्क्रीन पर एसएमएस आप्शन में अपना मोबाईल नम्बर फीड करना होगा। इस आप्शन में नम्बर फीड करने के बाद ओके का बटन दबाने पर कुछ ही सैंकिंड में डाटा मतदाता के मोबाईल पर एसएमएस के जरिए पहुंच जाएगा। यह टच स्क्रीन आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनावों में कार्य करेगी और कोई भी मतदाता अपने वोट से सम्बन्धित नवीनतम जानकारी सहजता से हासिल कर पाएगा।
उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में स्वीप गतिविधियां चलाई जा रही है और मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए व्यापक योजना भी तैयार करने के आदेश अधिकारियों को दिए गए है। जिन पात्र व्यक्तियों के अभी तक वोट नहीं बने है, वह व्यक्ति 12 अप्रैल को सायं 3.00 बजे तक अपना वोट बनवाने के लिए आवेदन कर सकता है। यह आवेदन डब्लयूडब्लयूडब्लयूडाटएनवीएसपीडाटईन  (www.nvsp.inपर आनलाईन भी किया जा सकता है। इसको प्रचारित करने के लिए सार्वजनिक स्थलों पर होर्डिंग्स लगवाए जा रहे है तथा महाविद्यालयों व विश्वविद्यालयों में इलेक्ट्रोरल लिटरेसी क्लब को सक्रिय किया गया है। उन्होंने कहा कि महाविद्यालयों के प्राचार्यों से एक प्रमाण पत्र भी लिया जाएगा कि उनके कॉलेज में 18 वर्ष से अधिक आयु का कोई भी विद्यार्थी ऐसा नहीं है, जिसका वोट नहीं बना है। इस बार चुनावों में तकनीकी का प्रयोग किया जाएगा, जिसके चलते प्रत्याशियों के लिए आदर्श आचार संहिता की उल्लघंना करना तथा चुनावी खर्चे को छिपाना कठिन होगा।