पंचकूला में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने टीएमसी पार्टी के खिलाफ किया रोष प्रदर्शन

Haryana Panchkula

सत्यखबर पंचकूला (उमंग श्योराण) – कल कोलकाता में अमित शाह की चुनावी रैली पर टीएमसी कार्यकर्ताओ और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प के मामले में आज पंचकूला में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने टीएमसी पार्टी के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने हरियाणा के बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला की अध्यक्षता में पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। हरियाणा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला और इसके अलावा पंचकूला व कालका के विधायक और बीजेपी कार्यकर्ता धरने में मौजूद रहे।

इस अवसर पर हरियाणा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि कल चुनाव प्रचार के दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रैली कर रहे थे और बीजेपी की लोकप्रियता को देखते हुए तृणमूल कांग्रेस बौखलाई हुई है। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने चुनाव से पहले महागठबंधन बनाने की कोशिश की थी जो चुनाव से ठीक पहले ही टूट गया। उन्होंने कहा कि महागठबंधन टूट जाने से ममता बनर्जी ने लोकतंत्र को धराशाई किया है। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के कार्यक्रम पश्चिम बंगाल में नहीं होने देती अगर होते हैं तो उन्हें कैंसिल करवा देती है या अगर प्रोग्राम होता है तो उन पर हमला करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कल भी ममता बनर्जी के आदेशों पर तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने अमित शाह की रैली पर हमला किया है और रोड शो पर पथराव किया गया। उन्होंने बताया कि इस घटना के चलते आज हरियाणा में बीजेपी ने तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ धरना दिया है।

राणा के सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर पर 12 मई को चुनाव मतदान के दौरान गैंगस्टर बाहुबली के साथ मतदान केंद्र में जाकर चुनाव प्रभावित करने के मामले के आरोप को लेकर हरियाणा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि चुनाव मतदान के दौरान कोई भी बाहुबली अगर मैं आया तो उसके खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई की और शिकायत मिलने पर पुलिस ने मनीष ग्रोवर के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है और वहीं दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस सरकार की सरपरस्ती में सरेआम गुंडागर्दी चल रही है उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में भारत के संविधान को रौंदा जा रहा है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रैली के दौरान कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प के मामले में तृणमूल कांग्रेस द्वारा भी एक वीडियो और ऑडियो जारी किया गया है।

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि पहले भी तृणमूल कांग्रेस और लेफ्ट के बीच में ऐसी घटनाएं हो चुकी है और तृणमूल कांग्रेस द्वारा जारी किया गया वीडियो ऑडियो फर्जी है क्योंकि बीजेपी के कार्यकर्ता पूरे देश के अंदर शांतिपूर्वक चुनाव प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे मीडिया के माध्यम से ममता बनर्जी को कहना चाहती हैं कि वह भारत के सविधान को रौंद नहीं सकती और बीजेपी कार्यकर्ताओं के हौसले वह तोड़ नहीं सकती। उन्होंने कहाकि 23 मई को नतीजो के बाद सब कुछ स्पष्ट हो जाएगी और बीजेपी किसी स्तिथि में है यह भी पता चल जाएगा।