परीक्षा में फेल होने पर छात्र ने गोली मारकर की आत्महत्या

Charkhi Dadri Haryana

सत्यखबर चरखी दादरी (विजय कुमार) – कस्बा बौंद कलां निवासी एक छात्र ने परीक्षा में फेल होने पर पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। छात्र गांव के निजी स्कूल में 12वीं कक्षा का छात्र था। बुधवार शाम को हरियाणा शिक्षा बोर्ड का रिजल्ट आया तो वह फेल हो गया। फेल होने के बाद छात्र तनाव में था। बौंद कलां थाना पुलिस ने शव को दादरी के सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंपकर कार्रवाई शुरू कर दी है।

गांव बौंद कलां निवासी 17 वर्षीय सोभित गांव के आदर्श स्कूल में आर्टस का छात्र था। बुधवार को हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की 12वीं कक्षा का परिणाम आया तो सोभित फेल हो गया। फेल होने पर वह तनाव में था। जिसके कारण आज सुबह सोभित ने अपने घर में रखी पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर से सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। घटना के समय घर पर मृतक की मां थी। गोली चलने की आवाज सुनकर छात्र की मां कमरे में पहुंची तो सोभित खून से लथपथ पड़ा हुआ था। परिजनों ने तुरंत गंभीर हालत में छात्र को बौदं कलां के ही सीएचसी में भर्ती करवाया। लेकिन अस्पताल में चिकित्सक नहीं होने पर उसे दादरी के सरकारी अस्पताल में लाया गया। जहां चिकित्सकों ने छात्र को मृत घोषित कर दिया।

सूचना मिलने पर बौंद कलां पुलिस मौके पर पहुंची और जांच की। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए शव का दादरी के सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। वहीं परिजनों ने बताया कि सोभित का पिता सुनील कुमार आर्मी से एनएसजी कमांडो था और सेवानिवृत होने के बाद फिलहाल मुम्बई में अंबानी गु्रप में सिक्योरिटी में तैनात था। सुनील तीन दिन पूर्व ही घर आया था और अपने बेटे सोभित का सीकर में एनडीए एकेडमी में दाखिला करवाने के लिए दौड़-धूप कर रहा था। बुधवार को रिजल्ट आने से पूर्व सुनील किसी कार्य के लिए दिल्ली गया था।

पीछे से सोभित ने अपने पिता के बक्शे में रखी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। वहीं पुलिस जांच अधिकारी ने राजकुमार बताया कि सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। छात्र द्वारा अपने पिता की रिवाल्वर से गोली मारकर खुदकुशी की गई है। फिलहाल शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है और कार्रवाई जारी है।