पैराशूट से उतरने वाले फौजी को देख विरोधी को सताता है भय – ओपी धनखड़

Haryana Jhajjar

सत्यखबर झज्जर (कुमार सन्नी) – भाजपा प्रत्याशी अरविन्द शर्मा को दीपेन्द्र द्वारा पैराशूट से उतारे जाने की बयान पर हरियाणा के कृषि मंत्री ओपी धनखड़ ने पलटवार किया है और कहा है कि दीपेन्द्र को यह नहीं भूलना चाहिए कि जब फौजी पैराशूट से उतारा जाता है तो सामने वाले के दिल में एकाएक भय का माहौल पैदा हो जाता है। ठीक ऐसा ही भय अब दीपेन्द्र को भी सताने लगा है। झज्जर में बादली हलके के पन्ना प्रमुखों की बैठक के सम्बोधन के दौरान मीडिया के रूबरू हुए धनखड़ ने कहा कि अपनी बात रखने से पहले दीपेन्द्र व उनके पिता को कांग्रेस का वह घोषणा पत्र फाडक़र आग लगानी चाहिए जिसमें देश की सुरक्षा को कमजोर करने का वादा किया गया है और उसके बाद रोहतक संसदीय क्षेत्र की जनता से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भूपेन्द्र हुड्डा व दीपेन्द्र हुड्डा पहले

यह बताए कि कांग्रेसी घोषणा पत्र में देश की सुरक्षा से जुड़ी धारा 124 को समाप्त करने का वादा किया गया है। यह वह वायदा है जिसमें स्पष्ट है कि जो लोग भारत मुर्दाबाद के नारे बोलेंगे या फिर देश की सेना पर पत्थरबाजी करेंगे और देश के टुकड़े-टुकड़े करने की योजना को अंजाम देंगे उन पर कोई भी व किसी भी प्रकार की कार्यवाहीं नहीं होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी घोषणा पत्र में दो धाराएं देश के खिलाफ है और कांग्रेस प्रत्याशी

दीपेन्द्र व उनके पिता भूपेन्द्र हुड्डा इन जयचंदी घोषणाओं के साथ है। ऐसे में जनता इन्हें कतई माफ नहीं करेगी। इस मौके पर उन्होंने पन्ना प्रमुखों की बैठक में हर कार्यकर्ता को लोकसभा की जीत के लिए पांच मूल मंत्र बताए और कहा कि इन मूल मंत्रों पर यदि आप काम करेंगे तो निश्चित रूप से जीत आपके द्वार पर खड़ी होगी।