प्रधानमंत्री पर कटाक्ष कब आएंगे अच्छे दिन कब दिए जाएंगे 2 करोड लोगों को रोजगार – रणदीप सुरजेवाला

Haryana Kaithal

सत्यखबर कैथल (ब्यूरो रिपोर्ट) – सोशल मीडिया पर कुरुक्षेत्र से खुद के नाम की चर्चा से सुरजेवाला ने किया इनकार, स्थिति साफ करते हुए कहा- कुरुक्षेत्र से पहले प्रत्यासी नवीन जिंदल ही हैं लेकिन अगर उनके किसी व्यक्तिगत कारण से इनकार होता है तो दूसरा कोई प्रत्याशी जिसे पार्टी चाहिए चुनाव लड़ सकता है और वह दूसरा प्रत्याशी मैं नहीं हूं

गुरुग्राम में मनी लॉन्ड्रिंग की बात पर कहा-भाजपा ने जो करोड़ो रूपये के कार्यालय बनाये हैं, आरएसएस ने समालखा व पंचकूला की पहाड़ियों में जमीन खरीदी उनमें मनी लाउंड्रिंग हुई है, क्या ये पैसा बीजेपी के पास था। ये उद्योगपतियों से वसूला गया है। क्या इनकी जांच होगी

ईडि अब मात्र इलेक्शन ढकोसला बन गया है ताकि जनता का ध्यान आकर्षित करके बीजेपी अन्य मुद्दों से ध्यान हटा सके।

पत्रकारों से बात करते हुए ये भी कहा की की कहाँ गए मोदी सरकार के वो वादे जो जनता से किये थे। वो सारी बातें भूलकर अब वो आतंकवाद से लड़ने की बात करते हैं तो क्या जनता आतंकवादी है। क्या उन्हें इस देश का नौजवान, किसान आतंकवादी नजर आता है। जब पांच के नाम पर कुछ दिखाने के लिए ना हो तो पाकिस्तान जाकर चुनाव लड़ा जाता है। मोदी जी अब तो चलते बनिये 40 दिन से भी कम समय बचा है आपकी विदाई में।

करनाल छात्रों पे पुलिस की बर्बरता पर बोलते हुए कहा की जिस तरह से खटटर सरकार जनता को आतंवादी बनाकर पीटती है तो क्या करनाल के छात्र -छात्राएं और शिक्षक आतंकवादी हैं। ये खटटर सरकार की बर्बरता का पहला आलम नहीं है। इसी तरह का आलम बरवाला आश्रम, जाट आंदोलन, डेरा सच्चा सौदा प्रकरण हुआ और इसके अलावा भी बहुत से दलितों और गरीबों पर भी अत्याचार हुए।