हरियाणा पुलिस द्वारा छिप्पी गैग के चार अति शातिर बदमाश गिरफ्तार

Chandigarh

सत्यख़बर चंडीगढ़

हरियाणा पुलिस द्वारा छिप्पी गैग के चार अति शातिर बदमाश गिरफ्तार।
 अपराध एवम् अपराधियों पर नकेल कसते हुये आज हरियाणा पुलिस झज्जर की सीआईए ने पिछले कुछ दिनों में मुस्तैदी के साथ कार्रवाई करते हुए छिप्पी गैग के अति शातिर चार बदमाशो को पकडने में सफलता हासिल की है। यह जानकारी हरियाणा पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता ने दी।
  प्रवक्ता के अनुसार झज्जर पुलिस द्वारा पकड़े गए बदमाशों की पहचान कुलदीप उर्फ कल्लू पुत्र राम अवतार निवासी गांव खेड़ी खुमार जिला झज्जर,  नीरज उर्फ छिप्पी पुत्र सुखवीर सिंह निवासी गांव सिलाना जिला झज्जर,  विनय उर्फ बिरला पुत्र जगदीश चंद्र निवासी हरी पुरा मोहल्ला झज्जर शहर तथा सचिन उर्फ बिहारी पुत्र बख्तावर निवासी माता गेट झज्जर शहर के तौर पर की गई।
  उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाशों ने प्राथमिक पूछताछ में संगीन किस्म की अनेक वारदातों का खुलासा किया। पकड़े गए बदमाशों ने दिल्ली गेट झज्जर निवासी एक स्कूल संचालक धर्मेंद्र उर्फ के के तथा गांव दादरी तोए में होटल संचालक सतीश निवासी झज्जर की हत्या की वारदातों का भी खुलासा किया। पकड़े गए अति वांछित बदमाशों ने प्राथमिक पूछताछ में जघन्य किस्म की सात आपराधिक वारदातों का खुलासा किया है।
जो निम्न प्रकार से हैं :—–
1.  पकड़े गए उपरोक्त चारों बदमाशों ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर 10 मार्च 2019 को झज्जर निवासी धर्मेंद्र उर्फ केके की हत्या की वारदात को अंजाम दिया था। जो रवि उर्फ लुहार व नरेश उर्फ सेठी दोनो निवासी झज्जर की केके से आपसी रंजिश के कारण हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया था।
 2. पकड़े गए बदमाशों ने  अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर पूर्व योजना के अनुसार 6 फरवरी 2019 को आईटीआई बहादुरगढ़ के पास अजय उर्फ डंका निवासी मांडोठी हाल बहादुरगढ़ की हत्या की वारदात को अंजाम दिया था। जिसकी वजह गैंगस्टर अनिल उर्फ छिपी के पिता की हत्या मृतक डंका ने की थी। इसी रंजिश को लेकर अनिल उर्फ छिप्पी के कहने पर हत्या की उपरोक्त वारदात को अंजाम दिया गया था।
3. पकड़े गए उपरोक्त चारों बदमाशों ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर झज्जर निवासी सतीश जो गांव दादरी तोए में स्थित महाराजा होटल का संचालक था। उसकी पकड़े गए बदमाशों के एक साथी के मां बाप के साथ मकान के विवाद को लेकर हाथापाई हुई थी उसी रंजिश को लेकर एक अप्रैल 2019 को होटल में ही सतीश की हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया था।
4.  सोनीपत निवासी शराब ठेकेदार नंदा की राई जिला सोनीपत में 14 मार्च 2019 को हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया था। पकड़े गए बदमाशों ने अपने अन्य साथियों के कहने पर ठेकेदार को गोली मारी थी।
 5. पकड़े गए बदमाशों ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर हथियारों के बल पर 02 अप्रैल 2019 को यमुनानगर शहर एरिया के एक मकान से लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था। जिसमें बदमाशों ने स्वर्ण आभूषण व लाखों रुपए की नकदी की लूटपाट की थी।
6.  पकड़े गए एक बदमाश विनय उर्फ बिरला की बहन के ससुराल घर गांव मतलौडा जिला पानीपत में उपरोक्त बदमाशों ने 03 मार्च 2019 को अपने चेहरों को ढककर हथियारों के बल पर लाखों रुपए की लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था।
7.  पकड़े गए उपरोक्त बदमाशों ने मुलाना जिला अंबाला के एरिया से हथियारों के बल पर 31 मार्च 2019 को एक स्विफ्ट डिजायर गाड़ी छीनने की वारदात को अंजाम दिया था। छीनी गई इसी गाड़ी का इस्तेमाल करते हुए बदमाशों ने झज्जर निवासी होटल संचालक सतीश, शराब ठेकेदार नंदा निवासी सोनीपत,  यमुना नगर शहर में लूटपाट तथा मतलौडा में लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था।
  प्रवक्ता के अनुसार सीआईए झज्जर की टीम को गुप्त सूचना मिली कि स्कूल संचालक धर्मेंद्र उर्फ केके तथा होटल संचालक सतीश की हत्या के दोषी किसी अन्य वारदात की योजना के लिए झज्जर गुरुग्राम रोड बाईपास पुल के पास इकट्ठे होकर सलाह मशवरा कर रहे हैं। गुप्त सूचना पर तत्परता से सक्रिय होते हुए पुलिस टीम मौका पर पहुंची। पुलिस टीम ने कड़ी मशक्कत के पश्चात मुस्तैदी के साथ कार्रवाई करके 4 युवकों को काबू किया तथा अदालत में पेश करके 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। पुलिस रिमांड के दौरान बदमाशों से पूछताछ में उपरोक्त आपराधिक वारदातों के साथ अन्य वारदातों के बारे में भी पता लगाया जायेगा।