फरीदाबाद में मरीज की मौत, हॉस्पिटल के गेट पर शव रखकर किया प्रदर्शन

Faridabad Haryana

सत्यखबर फरीदाबाद (मनोज सूर्यवंशी) – फरीदाबाद में मरीज की मौत पर परिजनों का हंगामा। हॉस्पिटल के गेट पर शव रखकर किया प्रदर्शन। अस्पताल के डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप। मृतक के परिजनों की मांग है कि आरोपी डॉक्टरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए साथ ही अस्पताल को सील किया जाए।वहीँ इंजेक्शन देने वाले आरोपी ने भी माना की पाइल्स की बिमारी के चलते नहीं जाती किसी मरीज की जान।

फरीदाबाद के एनआईटी 3 इलाके के एपेक्स अस्पताल के बाहर डेड बॉडी रखकर प्रदर्शन कर रहे लोग अपने मरीज़ की मौत से दुखी हैं। मृतक डिंपी के परिजनों के मुताबिक उसे एपेक्स अस्पताल में पाइल्स के ऑपरेशन के लिए एडमिट कराया था, लेकिन ऑपरेशन शुरू करने के दौरान ही उसकी तबीयत खराब हो गई और डॉक्टर बिना बताए उसे एस्कॉर्ट फॉर्टिस हॉस्पिटल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उसे वेंटिलेटर पर ले लिया और सात-आठ दिन बाद जब फोर्टिस हॉस्पिटल ने जवाब दे दिया तो उसे दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहां उसकी बुधवार को मौत हो गई। अब परिजन अस्पताल के डॉक्टरों पर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

बलराज मृतक डिंपी के पिता
15 मिनट बाद ही उसकी तबियत खराब हो गई। हमें बिना बताये ही डॉक्टर उसे एस्कॉर्ट्स फोर्टिस अस्पताल ले गए।

मृतक डिंपी की बुआ
हमें इंसाफ दो। डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई करो और अस्पताल बंद करो।

दूसरी तरफ अस्पताल के डॉक्टर खुद अपनी लापरवाही की बात स्वीकार कर रहे हैं।

डॉ सेठी
पाइल्स जैसी बीमारी से मौत नही हो सकती। यह दवाई की ओवर डोज़ या रिएक्शन से हो सकती है।

पुलिस के मुताबिक वह परिजनों की शिकायत और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतज़ार कर रहे है। उसी के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

विक्रम कपूर डीसीपी
शिकायत और पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।