चौकीदार बनने वालों ने कभी असल के चौकीदारों की सूध तक नहीं ली – दुष्यंत चौटाला

Haryana Mahendragarh

सत्यखबर बाढड़ा (रविंद्र श्योराण) – जजपा नेता व हिसार सांसद दुष्यंत चौटाला ने भाजपा के चौकीदार कंपेन पर पलटवार करते हुए कहा कि पांच साल से देश का चला रहे चौकीदारों ने धरातल पर कभी असल के चौकीदारों की सूध तक नहीं ली। देश व प्रदेश के हालात जो हैं, उससे स्पष्ट है कि ये देश के चौकीदार नहीं बल्कि ठेकेदार हैं। क्योंकि देश को आगे बढ़ाने की बजाए चौकीदारों ने ठेकेदारों को देश हवाले किया हुआ है। सांसद ने कहा कि हरियाणा में किसानों के साथ सरकार ज्यादती कर रही है। अब तक सरकार द्वारा किसानों की सरसों खरीद को लेकर नोटिफिकेशन तक जारी नहीं किया। अगर सरकार होली तक नोटिफिकेशन जारी नहीं करती है तो जजपा पार्टी प्रदेश भर में बड़ा आंदोलन शुरू करेगी।

सांसद दुष्यंत चौटाला चरखी दादरी के बाढड़ा की अनाजमंडी में उमेद पातुवास के संयोजन में आयोजित जनभावना रैली को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान वर्ष 2014 में बाढड़ा से निर्दलीय प्रत्याशी का चुनाव लडऩे वाले उमेद पातुवास समर्थकों के साथ जजपा में शामिल हुए। सांसद ने कहा कि मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री व संतरी तक अपने नाम के सामने चौकीदार लिख रहे हैं। डेढ़ करोड़ की गाड़ी लेकर चलने वाले सीएम मनोहर चौकीदार कैसे हो सकते हैं। नाम के आगे चौकीदार लगाने वालों को चप्पल तक नहीं दी। सांसद ने कहा कि जमानत जब्त पार्टी बोलने वालों की हमने ही जींद में जमानत जब्त करवाई।

लोकसभा चुनावों में कई सीटों पर ऐसी पार्टी की फिर जमानत जब्त होंगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं को आह्वान किया कि जजपा पार्टी में कार्यकत्र्ता एक वोट और एक रूपया देकर सहयोग दें। कहा कि डा. अजय सिंह की महेंद्रगढ़-भिवानी कर्मभूमि को जीतने के लिए मेहनत करें। अब से ही कार्यकत्र्ता लोकसभा चुनाव को लेकर आज से फिल्ड में उतरें और घर-घर तक पहुंचाएं। क्योंकि दिल्ली में जिस तरह से झाड़ू चली, उसी तर्ज पर हरियाणा में चप्पल पहनकर कांटों को पीछे छोडऩे का कार्य करें।

वहीं सांसद ने कहा कि सरकार ने कर्ज की किश्त नहीं दे पाने वाले किसान के फोटो अखबारों में छापने का कार्य किया। किसान पेंशन के नाम पर सरकार ने सिर्फ ढकोसला किया, किसी के खाते में 6 हजार नहीं आए। जजपा की सरकार बनते ही सभी किसानों का पहली कलम से कर्जा माफ करेंगे। जिस दिन हरियाणा में जजपा की सरकार बनेगी, हर नौकरियों में 85 प्रतिशत प्रदेश के युवाओं का हिस्सा होगा।